How to write application letter in Hindi – हिंदी में प्रार्थना पत्र कैसे लिखें

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका आज के इस नए लेख में, आज हम आपको हिंदी में प्रार्थना पत्र कैसे लिखें how to write application letter in Hindi के बारे में जानकारी देने वाले हैं।

आज के समय में हिंदी में पत्र लेखन काफी महत्वपूर्ण हो गया है क्योंकि सभी स्थानों पर आप सीधे पहुंचकर अपनी समस्या का जिक्र नहीं कर सकते इसलिए आधिकारिक तरीके से एक पत्र लिखकर हम अपनी समस्या का वर्णन करके उपयुक्त अधिकारी तक पहुंचा सक
ते हैं इसलिए भले ही हम अंग्रेजी में पत्र ना लिख पा रहे हैं लेकिन कम से कम हमें हिंदी में पत्र लेखन जरूर आना चाहिए।

Read more :

इसीलिए आज का यह लेख हम आपके लिए लेकर आए हैं जिसमें हम आपको How to write application letter in Hindi – हिंदी में प्रार्थना पत्र कैसे लिखें के बारे में जानकारी देने वाले हैं। चलिए बिना देर किए हुए हिंदी में प्रार्थना पत्र कैसे लिखें के बारे में जान लेते हैं।

How to write application letter in Hindi – हिंदी में प्रार्थना पत्र कैसे लिखें

नीचे हम आपको कुछ विषयों पर प्रार्थना पत्र लिखकर बताएंगे जिनमें आप फॉर्मेट को समझ जाएंगे और उसी हिसाब से आप अपने कारणों से संबंधित लेख लिख सकते है वैसे तो हमने कुछ प्रचलित समस्याओं का ही चयन किया है जिस पर हम आप को प्रार्थना पत्र लिखकर बताएंगे। चलिए हिंदी में प्रार्थना पत्र कैसे लिखें के बारे में जानते हैं-

प्रार्थना पत्र न-1

अपने नगर में बाढ़ एवं घनघोर वर्षा के बाद के जलजमाव एवं गंदगी के कारण संक्रमण रोग फैलने की आशंका को ध्यान में रखते हुए जिला अधिकारी को एक पत्र लिखिए

सेवा में,
जिलाधिकारी महोदय
वाराणसी ।

दिनांक : DD/MM/YYYY
विषय : जलजमाव व गंदगी के कारण फैलने वाले संक्रमण के संबंध में

महाशय,

मैं आपका ध्यान वाराणसी नगरी में फैलने वाले संक्रमण की आशंका की ओर आकृष्ट करना चाहता हूं इधर हाल में हुई घनघोर वर्षा और बाढ़ के कारण न केवल पूरी नगरी जलजमाव के संकट से ग्रस्त है बल्कि इसके साथ-साथ चारों ओर व्याप्त गंदगी के कारण यहां बस्तियों के लोगों का जीना भी मुश्किल हो गया है।

सड़े हुए पानी एवं कूड़े कचरे से निकलने वाली दुर्गंध के परिणाम स्वरूप लोगों ने कई सड़कों से आना-जाना तक छोड़ दिया है।

ऐसी स्थिति में संपूर्ण क्षेत्रों में विभिन्न प्रकार के संक्रमण वाले रोगों के फैलने की प्रबल आशंका है अतः आपसे विनम्र निवेदन है कि पूरे नगरी में की स्वच्छता हेतु उचित दिशा में कदम उठाए जाएं ताकि संक्रमण वाले रोगों को फैलने का अवसर ही ना मिले और लोगों के स्वास्थ्य की समुचित रक्षा हो सके।

धन्यवाद।
प्रार्थी,
आपका नाम
आपका पता

प्रार्थना पत्र न-2

उज्जैन में बाढ़ पीड़ितों के सहायतार्थ अपने ग्राम द्वारा संचित धनराशि को पहुंचाने हेतु जिला अधिकारी को एक पत्र लिखिए

सेवा में,
जिलाधिकारी महोदय,
उज्जैन ।

दिनांक : DD/MM/YYYY
विषय : बाढ़ पीड़ितों के पास संचित धन राशि पहुंचाने के संबंध में।

महाशय,

मैं अपनी ग्राम वासियों की ओर से निवेदन करना चाहता हूं कि हम सब (गांव का नाम) के निवासियों ने मिलजुल कर उज्जैन के बाढ़ पीड़ितों की मदद हेतु ₹120000 की धनराशि जमा की है और हम ग्रामीणों की प्रबल इच्छा है।

कि यह राशि जल्द से जल्द जरूरतमंदों तक पहुंचा दी जाए आशा है कि आप हमारे निवेदन को सहर्ष स्वीकार ते हुए अविलंब हमारी मांग को पूर्ण करने में हमारी सहायता करेंगे ताकि संचित धन सही समय पर लोगों में वितरित किया जा सके।

धन्यवाद ।
प्रार्थी,
आपका नाम
आपका गांव

प्रार्थना पत्र – 3

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर संक्रामक बीमारियों की रोकथाम के लिए समुचित दवाइयों की उपलब्धता हेतु जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी को एक पत्र लिखिए

सेवा में,
मुख्य चिकित्सा अधिकारी,
रायबरेली ,उत्तर प्रदेश

दिनांक :
विषय : प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर दवाइयों की उपलब्धता हेतु

मान्यवर,

मैं आपका नाम निवासी आपका गांव आपको सूचित करना चाहता हूं कि ऐसे समय में जबकि बरसात समाप्त होने के कारण जिले में चारों तरफ मच्छर मक्खियों का प्रकोप बढ़ रहा है और मलेरिया टाइफाइड व अन्य संक्रामक रोगों के मरीजों की संख्या भी धीरे-धीरे बढ़ती जा रही है।

जिले के विभिन्न स्वास्थ्य केंद्रों पर पहुंचे रोगियों को आवश्यक दवाइयों के अभाव में निराश होकर वापस आना पड़ रहा है इससे आम निवासियों में संक्रामक रोगों के बढ़ने की आशंका बढ़ती ही जा रही है।

अतः आपसे विनम्र निवेदन है कि समय रहते इस समस्या पर ध्यान देते हुए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर आवश्यक दवाइयों की समुचित उपलब्धता सुनिश्चित कराने हेतु यथोचित प्रयास किए जाएं ताकि क्षेत्रवासियों के स्वास्थ्य और जीवन की रक्षा संभव हो सके।

धन्यवाद
आपका नाम
गांव –
जिला – रायबरेली उत्तर प्रदेश

प्रार्थना पत्र -4

छात्रवृत्ति प्राप्ति हेतु अपने विद्यालय के प्रधानाचार्य को एक आवेदन पत्र लिखिए।

सेवा में,
प्रधानाचार्य महोदय
राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय
डीएलडब्ल्यू, वाराणसी

दिनांक : DD/MM/YY
विषय : छात्रवृत्ति प्रदान करने के संबंध में

महाशय,
सविनय निवेदन है कि मैं आपके विद्यालय का बारहवीं कक्षा का छात्र हूं मेरे पिताजी रिक्शा चलाकर पूरे परिवार का भरण पोषण करते हैं मेरे परिवार में आमदनी का कोई और स्रोत नहीं है इस कारण मुझे पढ़ाई लिखाई में आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।

यहां तक कि मेरे पास काफी किताब का सर्वथा अभाव रहता है जिससे मेरे पढ़ाई भी बाधित रहती है और मैं हमेशा आशंकित रहता हूं कि कहीं बोर्ड के परीक्षा फल पर भी इसका प्रतिकूल प्रभाव ना पड़ जाए।

अतः आपसे नम्र निवेदन है कि मेरी समस्या पर विचार करते हुए आप मुझे छात्रवृत्ति प्रदान करने की स्वीकृति देने का कष्ट करें इसके लिए मैं आपका सदा आभारी रहूंगा।

धन्यवाद
आपका आज्ञाकारी छात्र
छात्र का नाम
रोल नंबर
कक्षा और वर्ग

निष्कर्ष-

दोस्तों आज के इस लेख में हमने आपको How to write application letter in Hindi हिंदी में प्रार्थना पत्र कैसे लिखें के बारे में डिटेल में जानकारी दी, जिसमें हमने 4 प्रार्थना पत्रों के प्रारुप को सम्मिलित किया है।